चहेतों को बिलखता छोड़ दुल्‍हन की तरह पंचतत्‍व में विलीन हुई श्रीदेवी, बोनी कपूर ने दी मुखाग्नि

श्रीदेवी का अंतिम संस्कार

आरयू वेब टीम। 

लाखों चाहने वालों को बिलखता छोड़कर आज श्रीदेवी पंचतत्‍व में विलीन हो गयी। मुंबई के विले पार्ले सेवा समाज श्मशान घाट पर राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया गया। पति बोनी कपूर ने श्रीदेवी को मुखाग्नि दी। इससे पहले घर पर दुल्‍हन की तरह श्रीदेवी के पार्थिव शरीर को सजाने के साथ ही उनकी अंतिम यात्रा निकाली गयी।

यह भी पढ़ें- श्रीदेवी के अंतिम दर्शन के लिए पहुंचे सेलिब्रिटी और फैंस, राजकीय सम्‍मान से होगा अंतिम संस्‍कार

इस दौरान कपूर परिवार के सदस्यों के अलावा सिनेमा जगत की तमाम दिग्‍गज हस्तियां श्रीदेवी के लाखों फैंस और अन्‍य क्षेत्रों से जुड़े लोग वहां मौजूद रहें। किंग खान के रूप में पहचाने जाने वाले शाहरुख खान अंत्येष्टि स्थल पर सबसे पहले पहुंचने वालों में शामिल थे। उद्योगपति अनिल अंबानी भी वहां मौजूद रहे। श्मशान घाट पर भारी भीड़ के चलते बहुत से फिल्म कलाकार वहां पहुंच नहीं पाये। इस दौरान पुलिस की ओर से सुरक्षा के काफी बंदोबस्त किए गए थे, हालांकि श्रीदेवी के चाहने वालों की भारी भीड़ के सामने उसकी व्‍यवस्‍था नाकाफी साबित हुई और कई जगाहों पर रास्‍ते में पुलिस की लोगों के साथ झड़पें भी हुईं।

यह भी पढ़ें- सस्‍पेंस के साथ इंतजार खत्‍म, मुंबई पहुंचा श्रीदेवी का पार्थिव शरीर, कल होगा अंतिम संस्‍कार

दोपहर करीब दो बजे श्रीदेवी की अंतिम यात्रा सफेद फूलों से सजे हुए एक ट्रक में शुरू हुई। श्रीदेवी को लाल साड़ी पहनाई गई थी और पूर्ण श्रृंगार किया गया था। उनका शव तिरंगे में लिपटा हुआ था। ट्रक में बोनी कपूर, अर्जुन कपूर और कपूर परिवार के अन्य लोग मौजूद थे। अंतिम यात्रा में लोगों की भारी भीड़ उमड़ी। श्रीदेवी का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार हुआ, क्योंकि वह राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार के साथ ही पद्मश्री से भी सम्मानित थीं।

यह भी पढ़ें- रिपोर्ट में खुलासा हार्ट अटैक नहीं इस वजह से हुई थी श्रीदेवी की मौत, शरीर में अल्कोहल भी मिला

LEAVE A REPLY