मोदी ने किया मोहनपुरा डैम का उद्धाटन, 32 गांव के लोगों ने विरोध में लगाए पोस्‍टर, पहने काले कपड़े

मोहनपुरा डैम
जनसभा को संबोधित करते प्रधानमंत्री।

आरयू वेब टीम। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को अपनी एक दिवसीय यात्रा पर मध्य प्रदेश पहुंचे हैं। उन्होंने सबसे पहले राजगढ़ जिले की मोहनपुरा वृहद सिंचाई परियोजना (मोहनपुरा डैम) का उद्घाटन किया। मोहनपुरा डैम के उद्घाटन के बाद प्रधानमंत्री ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि कि मेरा सौभाग्य है कि मुझे आज चार हजार करोड़ की मोहनपुरा सिंचाई परियोजना के लोकर्पण के साथ-साथ पानी की तीन बड़ी परियोजनाओं की शुरुआत करने का भी अवसर मिला।

उन्होंने कहा कि बांध का उद्घाटन जनता की मेहनत और पसीने से हुआ है। उन्‍होंने बिना किसी का नाम लिये ही विपक्ष पर तंज कसते हुए कहा कि जो लोग झूठ और भ्रम फैलाने में लगे हैं, वो जमीनी सच्चाई से किस तरह कट चुके हैं, आप उसका सबूत हैं।

यह भी पढ़ें- जन्‍मदिन पर देश को सरदार सरोवर बांध का तोहफा देकर बोले मोदी, जनता के सपने के लिए जिउंगा

उन्‍होंने कहा कि आज देश के महान सपूत श्यामा प्रसाद मुखर्जी की पुण्यतिथि है। कश्मीर में उनकी मृत्यु हुई थी। आज इस अवसर पर मैं उनको नमन करता हूं और आदरपूर्वक श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं।

मिली जानकारी के अनुसार मोहनपुरा डैम का विरोध 32 गांव के लोग मिलकर कर रहे हैं, इसके विरोध में जगह-जगह पोस्टर भी लगाए गए हैं। साथ ही लोगों ने काला कपड़ा पहन कर अपना विरोध दर्ज किया। वहीं दूसरी ओर विरोध करने वालों की पुलिस प्रशासन निगरानी कर रही है। मोदी की सभा में काले कपड़े पहनकर जाने वालों को रोका जा रहा है और उनसे काले कपड़े उतारकर आने को कहा जा रहा है।

यह भी पढ़ें- दिल्‍ली-मेरठ एक्‍सप्रेस-वे का उद्धाटन कर मोदी ने किया रोड़ शो

मालूम हो कि प्रदेश में इस साल के अंत में होने वाले विधानसभा चुनावों को देखते हुए प्रधानमंत्री की प्रदेश यात्रा और विकास परियोजनाओं के लोकार्पण को अहम माना जा रहा है। प्रधानमंत्री दोपहर करीब 12 बजे भोपाल के राजा भोज हवाई अड्डे पहुंचे जहां सूबे के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उनका स्वागत किया।

जाने मोहनपुरा परियोजना की लागत

मोहनपुरा परियोजना की लागत 3,866.34 करोड़ रुपये है और इसके जलाशय की जल-भराव क्षमता 5730 लाख घन मीटर है। जलाशय से 1.34 लाख हेक्टेयर भूमि में रबी सिंचाई के साथ ही लगभग 400 ग्रामों में पेयजल की बेहतर व्यवस्था सुनिश्चित होगी। इस परियोजना से राजगढ़ जिले के 727 ग्राम लाभान्वित होंगे।

यह भी पढ़ें- प्रधानमंत्री से मुलाकात कर चार मुख्‍यमंत्रियों ने कहा, LG और AAP के गतिरोध को करें दूर

LEAVE A REPLY