नाबालिग छात्राओं को धमकाकर नेशनल कॉलेज का प्रिंसिपल करता था छेड़छाड़, हंगामें के बाद FIR

नेशनल कॉलेज
हंगामें के लिए नेशनल कॉलेज पहुंची छात्राएं व उनके परिजन।

आरयू ब्‍यूरो, 

लखनऊ। राजधानी में गुरु शिष्‍या के रिश्‍ते को कलंकित करने का मामला सामने आया है। हजरतगंज इलाके में स्थित नेशनल इंटर कॉलेज में प्रिंसिपल उमा शंकर सिंह द्वारा नाबालिग छात्राओं को फेल करने की धमकी देकर काफी समय से छेड़छाड़ और अश्‍लील बातें करने का मामला सामने आया। प्रिंसिपल की कारस्‍तानी से तंग छात्राओं ने आज परिजनों के साथ कॉलेज पहुंचकर हंगामा करने के साथ ही इसकी जानकारी पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने तीन छात्राओं की तहरीर पर प्रिंसिपल के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

अपने कार्यालय में कल लिया था रोक

कॉलेज में हंगामे के दौरान छात्राओं ने बताया कि वह लोग कल कॉलेज में रिजल्‍ट लेने पहुंची थी। जिसके बाद उमाशंकर सिंह तीन छात्राओं को अपने कमरे में रोककर अश्‍लील बात करने के साथ ही देर शाम जाने को कहने लगा। इस दौरान उनकी एक सहेली बुलाने पहुंची तो उसे जातिसूचक गाली देकर भगा दिया। किसी तरह कल अपने घर पहुंची छात्राओं ने आप बीती सुनाई तो आज छात्राओं के साथ कॉलेज पहुंचे आक्रोशित परिजनों ने हंगामा कर दिया।

पुलिस पहुंची तो कर लिया कमरे में बंद

हंगामें की जानकारी लगते ही हजरतगंज पुलिस मौके पर पहुंची जिसके बाद उमाशंकर ने खुद को एक कमरें में बंद कर लिया। वहीं पास में ही प्रिसिंपल आवास तक पहुंची पुलिस उनके घर की महिलाओं के सामने बेबस नजर आयी। महिलाओं ने पुलिसकर्मियों के साथ अभर्दता करते हुए उन्‍हें वहां से भगा दिया।

छात्राओं ने कहा घर आकर प्रिंसिपल कहते थे खिलाओं मटर-पनीर

वहीं हजरतगंज इलाके में ही रहने वाली एक छात्रा ने कहा कि कुछ दिन पहले तक प्रिंसिपल पढ़ाने के बहाने उसके घर तक आ जाते थे। कभी मटर पनीर खिलाने की फरमाइश करते तो कभी अपने घर में लड़ाई होने के किस्‍से सुनाते। शुरूआत में उसकी मंशा से अंजान छात्रा ने मामला समझते ही परिजनों से शिकायत की तो उनका घर आना बंद हुआ।

यह भी पढ़ें- तीन नहीं छह लोगों ने किया था कैंसर पीड़ित किशोरी से रेप, पुलिस छिपाती रही संख्या

बोर्ड परीक्षा के दौरान टीचर से भी की थी छेड़खानी!

वहीं छात्राओं के बगावती तेवर देख आज टीचर ने भी उनका साथ दिया। कॉलेज की महिला टीचर का आरोप था कि उमाशंकर सिंह ने बोर्ड परीक्षा के दौरान गैर जनपद से आई एक टीचर से भी अश्‍लीलता की थी। हालांकि टीचर प्रिंसिपल की पहुंच के चलते शिकायत करने की हिम्‍मत नहीं जुटा सकी और रोते हुए लौट गयी। टीचर ने कालेज के एक बाबू पर भी छेड़खानी का आरोप लगाया है।

प्रिंसिपल ने बताया साजिश

वहीं इस बारे में प्रिंसिपल उमाशंकर सिंह ने मीडिया को बताया कि कॉलेज के ही दो टीचर उनके खिलाफ सजिश रच रहे हैं। उन्‍होंने ही छात्राओं को भड़काया है। हालांकि स्‍कूल में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज दिखाने की बात को उमा शंकर टाल गए।

पुलिस कर रही जांच

एएसपी पूर्वी सर्वेश्र कुमार मिश्रा ने बताया कि तीन नाबालिग छात्राओं ने प्रिंसिपल के खिलाफ छेड़खानी का मुकदमा दर्ज कराया है। हजरतगंज पुलिस एफआइआर दर्ज कर मामले की गहनता से जांच कर रही है।

यह भी पढ़ें- नानी के सामने इंटर की छात्रा का अपहरण करने के बाद बदमाशों ने किया गैंगरेप

LEAVE A REPLY