पिता के साथ स्‍कूल जा रही LPS की छात्रा की ट्रक के नीचे आने से मौत, चक्‍काजाम

छात्रा की ट्रक के नीचे आने से मौत
मासूम की मौत पर विलाप करते परिजन। फोटो-आरयू

आरयू ब्‍यूरो

लखनऊ। आलमबाग इलाके के होमागार्ड मुख्‍यालय के पास आज सुबह साइकिल से पिता के साथ स्‍कूल जा रही मासूम की ट्रक के नीचे आने से मौत हो गई। घटना में छात्रा का पिता और साइकिल पर बैठा उसका छोटा भाई बाल-बाल बच गए। मृतका एलपीएस में कक्षा दो कि छात्रा थी। घटना से आक्रोशित लोगों ने सड़क जाम कर घटना के लिए दोषी लोगों पर कार्रवाई की मांग की। मौके पर पहुंची पुलिस ने काफी मश्‍ाक्‍कत के बाद जाम खुलवाने के साथ ही शव को पोस्‍टमॉर्टम के लिए भेजा।

छात्रा की ट्रक के नीचे आने से मौत
दुर्घटना के बाद मौके पर जुटी भीड़ व रोड पर पड़ी साइकिल। फोटो-आरयू

आलमबाग पुलिस के अनुसार कमल कुमार थापा होमगार्ड मुख्‍यालय में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी के रूप में तैनात होने के साथ ही वही पर पत्‍नी समेत बेटी तनुश्री उर्फ जान्‍हवी व दो साल के बेटे शिवा के साथ रहता है। जान्‍हवी आनन्‍द नगर स्थित एलपीएस में कक्षा दो कि छात्रा थी।

यह भी पढ़े- निर्माणाधीन कॉम्‍पलेक्‍स में लटकती मिली युवक की लाश, सनसनी

सुबह कमल साइकिल पर पीछे जान्‍हवी को बैठाकर स्‍कूल जाने के लिए घर से निकला था। साइकिल पर आगे शिवा भी बैठा था। होमगार्ड मुख्‍यालय गेट से बाहर निकलते ही पीछे से सामान लादकर आ रही ट्रक ने साइकिल को ठोकर मार दी। ठोकर से जान्‍हवी छिटकर ट्रक के पहिये के नीचे आ गई जिससे उसकी मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। जबकि पिता पुत्र मिट्टी पर गिरने के चलते साफ बच गए।

की छात्रा की ट्रक के नीचे आने से मौत
जान्हवी (फाइल फोटो)

गरीब मां-बाप जान्‍हवी को देखना चाहते थे ऊंचे मुकाम पर

जान्‍हवी की मौत से परिजनों में कोहराम मचा था। कुछ ही देर पहले तैयार कर स्‍कूल भेजने वाली मां का रो-रोकर बुरा हाल था। जान्‍हवी के घरवालों का कहना था कि आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने के बाद भी किसी तरह से बेटी को अच्‍छे स्‍कूल में पढ़ा रहे थे, ताकि वह बड़ी होकर कुछ बन सके, लेकिन लोगों की लापरवाही ने सारे अरमानों पर पानी फेर दिया।

यह भी पढ़े- डॉयल 100 की बोलेरो ने युवक को मारी टक्‍कर, भर्ती, पुलिस ने कहा गाड़ी नंबर बताओ तब लिखेंगे FIR

डिपो की वजह से अकसर होती रहती है इलाके में दुर्घटनाएं

घटना के बाद भाग रहे ट्रक चालक को लोगों ने पकड़कर पीटने के बाद पुलिस के हवाले कर दिया। जबकि घटना के लिए वहीं पर स्थित एक डिपो को जिम्‍मेदार ठहराते हुए कार्रवाई की मांग को लेकर इलाकाई लोगों ने चक्‍काजाम कर दिया। लोगो का कहना था कि डिपो के वजह से अकसर वाहन चालक वहां पर आने के साथ ही दुर्घटनाएं करते रहते है। आज भी जिस ट्रक से घटना हुई वह भी डिपो में ही आया था।

दो घंटे बाद समाप्‍त हुआ जाम

जाम की सूचना पाकर मौके पर पहुंचे पुलिस व होमगार्ड के अधिकारियों के करीब दो घंटे समझाने और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के आश्‍वासन के बाद आक्रोशित लोगों ने जाम समाप्‍त किया। जान्‍हवी के मामा संजय सिंह का कहना था कि डिपो की वजह से अकसर इलाके में दुर्घटनाएं होती रहती है।

LEAVE A REPLY