प्रदेश सरकार के बजट से निराश व्‍यापारियों ने कहा, ई कॉमर्स पॉलिसी, कॉ‍मर्शियल हाउस, बिजली व पेट्रोल-डीजल पर टैक्‍स कटौती की थी आशा

आदर्श व्यापार मंडल
बजट पर चर्चा के दौरान जुटे व्यापारी संगठन के पदाधिकारी। (फोटो-आरयू)

आरयू ब्‍यूरो, लखनऊ। सोमवार को योगी सरकार द्वारा पेश किए गए बजट के बाद लगातार लोगों की प्रतिक्रियाएं सामने आ रहीं हैं। सरकार जहां इस साल के बजट को मील का पत्‍थर बता रही है वहीं विपक्ष का कहना है कि यह बजट जनता के साथ एक छलावा है। इन सबके बीच राजधानी लखनऊ के व्‍यापारियों ने भी योगी सरकार के बजट को निराश करने वाला बताया है। सप्रू मार्ग स्थित एक रेस्‍टूरेंट में बजट जारी होने का टीवी का लाइव प्रसारण देखने के दौरान उत्तर प्रदेश आदर्श व्यापार मंडल के पदाधिकारियों ने बजट को व्‍यापारियों के लिए पूरी तरह से निराशाजनक बताया है।

इस मौके पर जुटे व्‍यापारियों ने बजट पर चर्चा करते हुए मीडिया से कहा कि व्यापारियों को प्रदेश में ई कॉमर्स पॉलिसी, कॉमर्शियल हाउस टैक्स व बिजली की दरों में कमी के साथ ही व्यापारियों के लिए स्वास्थ्य बीमा योजना शुरू किए जाने की सरकार से आशा थी, लेकिन सरकार ने ऐसा कुछ भी नहीं किया।

यह भी पढ़ें- #UPBudget2021: CM योगी ने कहा, प्रदेश के विकास में मील का पत्थर साबित होगा ये बजट

बजट पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्‍त करते हुए उत्तर प्रदेश आदर्श व्यापार मंडल के प्रदेश अध्यक्ष संजय गुप्ता ने कहा प्रदेश सरकार के बजट में प्रदेश के व्यापारियों को कुछ भी नहीं मिला, प्रदेश के व्यापारियों को विदेशी ई-कॉमर्स कंपनियों से प्रतिस्पर्धा करने के लिए प्रदेश में ई कॉमर्स की पॉलिसी की आवश्यकता थी तथा उसकी घोषणा होने की उम्मीद थी चुनाव के दृष्टिगत व्यापारियों को कॉमर्शियल हाउस टैक्स की दरों में कमी होने की भी उम्मीद थी तथा व्यापारियों को स्वास्थ्य बीमा योजना की भी आशा थी, लेकिन बजट में ऐसा कुछ भी नहीं हुआ।

यह भी पढ़ें- अखिलेश का तंज, पेपरलेस बजट में सबके हाथ खाली, भाजपा ने अपने संकल्प पत्र का वादा भी नहीं किया पूरा

प्रदेश अध्‍यक्ष ने कहा कि डीजल और पेट्रोल पर वैट की दरें घटाकर व्यापारियों सहित आम जनता को भी प्रदेश सरकार राहत दे सकती थी, लेकिन यह टैक्‍स भी कम नहीं किए गए। इस तरह उत्तर प्रदेश सरकार ने एक अच्छा मौका खोया है।

बजट चर्चा कार्यक्रम में संगठन के प्रदेश उपाध्यक्ष अविनाश त्रिपाठी, ओमप्रकाश सांवरिया, लखनऊ अध्यक्ष हरजिंदर सिंह, ट्रांस गोमती चेयरमैन अशोक यादव, लखनऊ के वरिष्ठ उपाध्यक्ष विनोद अग्रवाल, सुभाष अग्रवाल, लखनऊ उपाध्यक्ष मनीष जैन, मोहम्मद आदिल, विनय गांधी, प्रवीण मिश्रा व अजय प्रताप सिंह मौजूद रहें।

LEAVE A REPLY