69 हजार शिक्षक भर्ती में खाली सीटें भरने की मांग को लेकर CM आवास पहुंचे अभ्‍यर्थियों ने किया प्रदर्शन

अभ्‍यर्थियों ने किया प्रदर्शन
सीएम आवास पर प्रदर्शन करते अभ्यर्थी। (फोटो आरयू)

आरयू ब्‍यूरो, लखनऊ। 69 हजार शिक्षक भर्ती प्रक्रिया में गड़बड़ी का आरोप लगा अभ्‍यर्थी लगातार विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। इसी क्रम में सोमवार को भारी संख्‍या में अभ्यर्थी मुख्यमंत्री आवास के बाहर प्रदर्शन करने पहुंच गए। जहां करीब आधे घंटे तक अभ्यर्थियों ने नारेबाजी की। पुलिस ने हटाने की कोशिश की तो अभ्यर्थी उग्र होने लगे। नाराज अभ्यर्थियों ने शुरू में वहां से हटने से मना कर दिया। जिसके बाद सीएम आवास पर तैनात पुलिस ने 200 से ज्यादा अभ्यर्थियों को हिरासत में लेकर धरनास्थल इको गार्डेन भेजा गया।

अभ्‍यर्थियों ने किया प्रदर्शन
अभ्यअर्थियों को ईको गार्डेन ले जाती पुलिस। (फोटो आरयू)

अभ्यर्थियों का आरोप है कि भर्ती को लेकर सुप्रीम कोर्ट का आदेश है, उसके बाद भी उसको फॉलो नहीं किया जा रहा है। प्रदर्शनकारियों में वों अभ्यर्थी ज्यादा थे, जिनका मेरिट में नाम नहीं आया। अभ्‍यर्थियों ने आरोप लगाते हुए कहा कि प्रदेश में रिक्त शिक्षकों की संख्या बहुत ज्यादा है। ऐसे में अभी कम से कम 22 हजार बहाली और की जा सकती है।

यह भी पढ़ें- 69 हजार शिक्षक भर्ती: प्रदर्शन कर रहे अभ्यर्थियों का मुख्यमंत्री ने लिया संज्ञान,बेसिक शिक्षा मंत्री को दिए ये निर्देश

अभ्‍य‍र्थी प्रदर्शन के दौरान लगातार सीट बढ़ाने को लेकर नारे लगा रहे थे। साथ ही हाथों में अपनी मांगों से जुड़े पोस्टर भी थे। अभ्यर्थियों की भीड़ देखकर पुलिस प्रशासन के हाथ पांव फूल गए। सभी अभ्यर्थी अलग-अलग रास्तों से मुख्यमंत्री आवास पहुंचे थे।

मालूम हो कि इससे पहले ओबीसी और एसई वर्ग के अभ्‍यर्थियों ने हाल ही में शिक्षा मंत्री सतीश द्विवेदी के घर का घेराव किया था। जिनका आरोप था कि 27 प्रतिशत ओबीसी आरक्षण के नियम को फॉलो नहीं किया गया है। इस दौरान अभ्‍यर्थियों  डेलीगेशन शिक्षा मंत्री से भी मिला। जहां मंत्री ने मामले में आयोग से चार दिन में रिपोर्ट मांगने की बात कही थी।

यह भी पढ़ें- 69 हजार शिक्षक भर्ती में त्रुटि सुधार की मांग को लेकर अभ्यर्थियों ने डिप्टी CM व कानून मंत्री के आवास पर किया प्रदर्शन

LEAVE A REPLY