राजधानी में दूसरे दिन ऐसे पकड़ा गया तेंदुआ, देखें वीडियो

पकड़ा गया तेंदुआ
बेहोशी की हालत में पिंजड़ें में कैद हुआ तेंदुआ।

आरयू ब्‍यूरो, 

लखनऊ। सोमवार से गोसाईंगंज इलाके के मुल्लाखेड़ा में दहशत का पर्याय बने तेंदुए को आज वन विभाग की टीम ने पकड़ लिया। तेंदुए के सकुशल पकड़े जाने पर वन विभाग और पुलिस की टीम ने राहत की सांस ली। वहीं इलाके के लोगों को भी तेंदुए की दहशत से छुटकारा मिल गया।

ट्रैंकुलाइज कर निकाला पाइप से बाहर

सोमवार से तेंदुए को पानी निकासी पाइप से निकालने का तमाम जतन कर चुकी वन विभाग की टीम ने मंगलवार की सुबह उसे ट्रैंकुलाइज करने में सफलता हासिल कर ली। तेंदुए को पाइप में ही ट्रैंकुलाइज करने के बाद उसके पूरी तरह से बेहोश हो जाने की तसल्‍ली पर ऑपरेशन में लगी टीम ने काफी मशक्‍कत के बाद पाइप से बाहर निकाला।

यह भी पढ़ें- लखनऊ में आतंक का पर्याय बना तेंदुआ तीसरे दिन मारा गया, हमले में इंस्‍पेक्‍टर भी घायल, देखें वीडियो

जू में चलेगा इलाज

रेस्‍क्‍यू करने वाली टीम का नेतृत्व कर रहे वरिष्ठ पशु चिकित्सक डॉ. उत्कर्ष शुक्ला ने बताया कि बेहोशी की हालत में तेंदुए को जू ले जाया जाएगा। जहां के अस्‍पताल में तेंदुए का इलाज चलेगा। तेंदुए के पूरी तरह से ठीक हो जाने पर ये तय किया जाएगा कि उसे कहां भेजना है।

यह भी पढ़ें- तेंदुआ की मौत पर अखिलेश का सवाल क्‍या जानवरों का एनकाउंटर हो गया शुरू, कार्रवाई की मांग

ग्रामीणों ने जताई खुशी

वहीं तेंदुए के पकड़े जाते ही ग्रामीणों में खुशी की लहर दौड़ पड़ी। गांववालों ने टीम का शुक्रिया अदा करने के साथ ही राहत की सांस ली। लोगों का कहना था कि समय रहते पाइप में तेंदुए को जाते हुए देख लिया गया नहीं तो भूख प्‍यास के चलते वह मौके मिलने पर लोगों को नुकसान जरूर पहुंचाता।

यह भी पढ़ें- लखनऊ के स्‍कूल में घुसा तेंदुआ, देखें वीडियो

सेल्‍फी और वीडियो की रही होड़

तेंदुए के पकड़ें जाने की सूचना लगते ही मौके पर जमा सैकड़ों की भीड़ कुछ ही देर में हजारों में बदल गयी। हर कोई फोटो खीचने के साथ पिंजड़े में कैद तेंदुए का वीडियो बनाने की कोशिश में लगा रहा। वहीं तेंदुए को छूने और उसके साथ सेल्‍फी लेने वालों की भी कमी नहीं थी।

यह भी पढ़ें- वन विभाग की लापरवाही ने ले ली दुर्लभ डॉल्फिन की जान, देखें वीडियो

LEAVE A REPLY