BKU ने विधानसभा चुनाव में किया इस राजनीतिक दल को समर्थन देने का ऐलान, राकेश टिकैत ने की मंच नहीं शेयर करने की बात

भारतीय किसान यूनियन

आरयू ब्यूरो,लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में समर्थन को लेकर जहां राजनीतिक पार्टियां एड़ी चोटी का जोर लगा रहीं हैं। वहीं इस बीच तीन कृषि कानून को रद्द कराने की लड़ाई लड़कर मजबूत हुए बीकेयू ने अपने समर्थन की घोषणा कर दी है। राकेश टिकैत के संगठन भारतीय किसान यूनियन (बीकेयू) ने उत्तर प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव में राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) के उम्मीदवारों को समर्थन देने की घोषणा की है।

इस संबंध में बीकेयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष और राकेश टिकैत के बड़े भाई नरेश टिकैत ने सिसौली में लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि उन्हें उम्मीद है कि इस गठबंधन के प्रत्याशियों को राज्य के लोग समर्थन देंगे। जयंत चौधरी की पार्टी आरएलडी और सपा गठबंधन ने शनिवार को सात प्रत्याशियों की दूसरी सूची जारी की थी।

यह भी पढ़ें- PM मोदी की सुरक्षा में चूक वाले घटनाक्रम पर किसान नेता राकेश टिकैत ने उठाएं सवाल, बताया, सहानुभूति बटोरने का सस्ता स्टंट

वहीं प्रयागराज पहुंचे राकेश टिकैत ने समर्थन को लेकर तो पत्ते नहीं खोले, लेकिन उन्होंने भाजपा को हराने की बात कही। उन्होंने कहा कि 13 महीने तक आंदोलन करने के बाद किसान अब खुद भी समझदार हो गए हैं। किसान नेता ने कहा कि वह खुद नहीं लड़ेंगे चुनाव ना ही किसी सियासी पार्टी का मंच शेयर करेंगे। उन्होंने तंज भरे लहजे में कहा कि सीएम योगी को लोगों को जीताना चाहिए, ताकि चुनाव के बाद विपक्ष का मजबूत रहना जरूरी होगा।

राकेश टिकैत ने कहा, ”किसान अपने भविष्य के बारे में खुद फैसला ले सकने की स्थिति में है। किसानों को अब जाति और धर्म के नाम पर बरगलाया नहीं जा सकेगा। एमएसपी समेत तमाम मुद्दों पर किसान अब अपनी मांगे पूरी करवा कर ही रहेंगे। साथ ही कहा कि किसान यूनियन 31 जनवरी को पूरे देश में करेगी प्रदर्शन।”

यह भी पढ़ें- लखनऊ की किसान महापंचायत में बोले राकेश टिकैत, प्रधानमंत्री के माफी मांगने से नहीं, MSP पर कानून बनने से मिलेगा रेट

LEAVE A REPLY