बस अग्निकांड पर अखिलेश ने कहा, योगी सरकार ने सपा सरकार में बना फायर स्‍टेशन बंद नहीं करवाया होता तो हादसे में बच सकती थीं जानें

बस अग्निकांड

आरयू ब्‍यूरो, लखनऊ। यूपी के कन्‍नौज जिले में शुक्रवार की रात हुए भीषण स्‍लीपर बस अग्निकांड में मारे गए लोगों की मौत पर सपा अध्‍यक्ष अखिलेश यादव ने शनिवार को शोक जताते हुए मृतक के परिजनों के प्रति संवेदना व्‍यक्‍त की है। वहींं आज अपने एक बयान में अखिलेश ने इस भीषण हादसे के लिए सीधे तौर पर योगी सरकार को दोषी ठहराते हुए हमला बोलने के साथ ही मृतक के परिजनों को दस-दस लाख रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान करने व घायलों को बेहतर चिकित्‍सा व्‍यवस्‍था की भी मांग की है।

संबंधित खबर- कन्‍नौज बस हादसा: पोस्‍टमॉर्टम के लिए भेजीं गयीं हड्डियों की पोटलियां, DNA से होगी शिनाख्‍त व पता चलेगी मृतकों की संख्‍या

यूपी के पूर्व सीएम ने छिबरामऊ में हुए बस हादसे को लेकर मीडिया से कहा कि इस दुर्घटना में लोगों की जान बच सकती थी, अगर योगी सरकार ने राजनीतिक सोच की वजह से सपा सरकार में बने फायर स्टेशन को बंद नहीं करवाया होता। अखिलेश का कहना था कि छिबरामऊ क्षेत्र में जिस जगह हादसा हुआ वहां से सिर्फ दस मिनट की दूरी पर पिछली सपा सरकार में फायर स्टेशन बनवाया गया था।

यह भी पढ़ें- AAP ने जाना बस अग्निकांड के घायलों का हाल, योगी सरकार से मृतक आश्रितोंको दस-दस व घायलों को दो-दो लाख रुपए देन की उठाई मांग

बताते चलें कि शुक्रवार की रात गुरसहायगंज व छिबरामऊ से करीब 45 लोगों को लेकर जयपुर जा रही थी। तभी छिबरामऊ थाना क्षेत्र के ही घिलोई गांव के सामने ट्रक से बस टकरा गयी। दोनों वाहनों में हुई टक्‍कर इतनी जबरदस्‍त थी कि फौरन ही बस में आग लग गयी और लोगों को संभलने का मौका भी नहीं मिला। दिल दहला देने वाले इस हादसे में 20 से ज्‍यादा लोगों की मौत होने का अनुमान है।

यह भी पढ़ें- दर्दनाक: ट्रक से टकराई रोडवेज बस, जिंदा जल गए 22 यात्री, 15 घायल

हालांकि शवों के बुरी तरह जलने के साथ ही हड्डियों तक के बिखर जाने के चलते हादसे में जान गंवाने वालों की सही संख्‍या का हादसे के दूसरे दिन भी पता नहीं चल सका है। मृतकों की शिनाख्‍त के साथ ही उनकी संख्‍या जानने के लिए अब पुलिस हड्डियों का डीएनए टेस्‍ट कराने की तैयारी कर रही है। दूसरी ओर इस हादसे में घायल लगभग दो दर्जन लोगों का विभिन्‍न अस्‍पतालों में इलाज चल रहा है।

यह भी पढ़ें- दुखद: कन्‍नौज बस अग्निकांड के बाद किसी परिवार के पांच तो किसी के दो सदस्‍यों का नहीं चल रहा पता, कुल नौ यात्रियों की तलाश में भटक रहें परिजन

LEAVE A REPLY